Breaking News
Home / new song / भारत में बढ़ रहा बिना मोज़े के जूते पहनने का फैसन, लेकिन हो जाए सावधान

भारत में बढ़ रहा बिना मोज़े के जूते पहनने का फैसन, लेकिन हो जाए सावधान

जूतों के नीचे मोज़े न पहनने का ट्रेंड आजकल यूवा पीढ़ी में काफी ज्यादा वायरल हो रहा हैबॉलीवुड के एक्टर से लेकर हॉलीवुड तक, सेलेब्रिटीस ने फैशन के चलते ये ट्रेंड सेट कर दिया है जिसे आज दुनिया भर में आम लोग कॉपी कर रहे है लेकिन किसी भी फैशन ट्रेंड के अच्छा बुरा जाने बगैर उसे अपना लेना भी काफी नुक्सानदायक होता है बिना जुराब के जूते पहनने से आज युवाओ में एक इन्फेक्शन फ़ैल रहा है

कॉलेज ऑफ पोडियाट्री ने दावा किया की बिना जुराब जूते पहनने से पुरुषो में फंगल इंफेक्शन का खतरा तेज़ी से बढ़ रहा है डॉक्टर ने किया सावधान त्वचा रोग विशेषज्ञ एम्मा स्टीफन्सन का कहना है कि 18 से 25 साल के पुरूषों में बिना मोजे और खराब फिटिंग के जूते पहनने के कारण पुरूषों में कई तरह की त्वचा संबधी बिमारियों का खतरा बढ गया है

आमतौर पर एक दिन में 300 मिलीलीटर पसीना निकलता है। गर्मी के कारण निकलने वाले पसीने और नमी की वजह से फंगल इंफेक्शन का खतरा बढ जाता है। एम्मा ने बताया कि ज्यादा पसीने और पैरो में नमी के परिणाम बहुत बुरे हो सकते है। उन्होनें एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताया जो कि कार धोने का काम करता था जिसके कारण उसके पैर पूरे समय नम रहते थे जिससे उससे फंगल इंफेक्शन हो गया और कई महिनों के इलाज के बाद वह पूरी तरह ठीक हो पाया।

ये बॉक्सर चैम्पियन रह चुका है इस फैशन ट्रेंड का शिकार – दुनिया का जाना माना बॉक्सर कॉनर मैकग्रेगॉर जो युएफसी चैम्पीयनशिप का विजेता रह चूका है, उसे भी फंगल इन्फेक्शन होने का खतरा रह चूका है इसके लिए वो समय समय पे डॉक्टर से सलाह लेते रहते है टिन्नी टिम्फका ब्रिटेन की एक मशहूर मॉडल है जिन्होंने ने कई मॉडलिंग स्टाइल प्राइज जीते है उन्हें भी कई दफा लन्दन फैशन वीक में बिना मोजो के देखा गया है इसके अलावा गायक गैक स्मिथ भी कई बार ऐसे नज़र आ चुके है

कैसे बचे इस बीमारी से? क्योकि ये चीज़ फैशन में है और स्टाइल आज के टाइम पे काफी मैटर करता है तो कुछ बातो को ध्यान में रख कर इस बीमारी से बच सकते है सबसे पहले हो सके तो अगर ज़रूरत न हो तो बिना मोजो के जूते न पहने जूता पहनने से पहले अपने पैर के तलवे पर एंटिपर्सिपरेंट स्प्रे करें। और अगर कभी लगे की पैर में दर्द है या त्वचा सम्बन्धी कोई परेशानी पैदा हो रही है तो उसे नज़रअंदाज़ न करे और डॉक्टर से संपर्क करे

About admin

Check Also

ਰਾਹ ਵਿੱਚ ਚੱਲਦੇ ਸਮੇਂ ਜੇਕਰ ਮਿਲ ਜਾਵੇ ਅਜੇਹੀ ਇਸਤਰੀ ਤਾ ਸਮਝੋ ਜਾਗ ਜਾਵੇਗੀ ਸੁੱਤੀ ਕਿਸਮਤ

ਸਾਡੇ ਭਾਰਤੀ ਸਮਾਜ ਵਿੱਚ ਸ਼ੁਭ ਅਤੇ ਅਸ਼ੁਭ ਗੱਲਾਂ ਦਾ ਬਹੁਤ ਧਿਆਨ ਦਿੱਤਾ ਜਾਂਦਾ ਹੈ ਕਿਸੇ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *